● आज कल हम बिना आलू वाली सबजी की कल्पना नहीं कर सकते। इस लम्बे, कुरुप और निराकार दिखने वाले आलू को वैज्ञानिक सोलान्म ट्युबरस्म कहते हैं, जिसने हम पर एक जादू सा कर दिया है। वे जो आलू को पसंद करते हैं और जो इसे नापसंद करते हैं, दोनों को यह जानकर खुशी होगी कि आलू में कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी के अलावा और भी कई सारे पोषण तत्व मौजूद हैं, जो हमें स्‍वस्‍थ्‍य बना सकते हैं। आलू के साथ सा‍थ इसके छिलकों में भी बहुत से पोषक तत्‍व पाए जाते हैं।
कच्चे आलू का रस पीने से दाद, फुन्सियां, गैस, स्नायुविक और मांसपेशियों के रोग दूर होते हैं। साथ ही अगर आप बहुत पतले हैं तो, आलू जरुर खाइये क्‍योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट उच्‍च मात्रा में पाया जाता है। ध्यान दें आलू खाने से पहले कुछ चीजों पर ध्यान देना अवश्यक है। हरे आलू जहरीले होते हैं, साथ ही जहरीले होते हैं उनके पत्ते और फल, इन में मौजूद सोलानिन, चाकोनिन और आर्सेनिक जैसे एल्कलोडस् आपके लिए घातक साबित हो सकते हैं। आलू बहुत गुणकारी है, तो चलिये देखते हैं इसमें ऐसे क्‍या क्‍या गुण छुपे हुए हैं।
1) 1) वजन बढाए
आलू में प्रोटीन बहुत कम, पर कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। अगर आप बहुत पतले हैं और अपना वजन बढाना चाहते हैं, तो अपने आहार में आलू को शामिल करें।
2) पचाने में आसान
आलू में, भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेटस् पाए जाते हैं, जो पचाने में तो आसान है ही साथ ही पाचनशक्ति को भी बढाते हैं। इसलिए मरीजों और बच्चों को आहार में आलू दिये जाते हैं, क्योंकि यह पचाने में आसान और शरीर को शक्ति भी देते हैं।
3) त्वचा के लिए भी लाभदायक
विटामिन सी और बी कॉम्प्लेक्स के साथ पोटेशियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस और जस्त जैसे खनिज हमारी त्वचा के लिए लाभदायक हैं। आप चाहे, तो उबले हुए आलू में थोडा सा शहत मिलाकर, इसका एक फेस पैक बनाए और अपने चहरे पर लगाएँ। यह पैक आपके चहरे के मुँहासों और धब्बों को मिटा देगा
4) गठिया
गठिया के मरीजों के लिए आलू का सेवन लाभदायक और हानिकारक हो सकता है। आलू में मौजूद विटामिन, कैल्शियम और मैग्नीशियम गठिया के मरीजों के लिए लाभदायक है। उबले हुए आलू का पानी भी इस बिमारी से राहत दिलाएगा। आलू में भरपूर मात्रा में मौजूद स्टार्च और कार्बोहाइड्रेट गठिया के मरीजों का वजन बढा सकता है, जिसका परिणाम हानिकारक हो सकता है।
5) सूजन घटाए
सूजन चाहे, आंतरिक हो या बाहरी, आलू का सेवन दोनों में लाभदायक है। आलू खाने में नर्म और हाजमेदार तो होता ही है, साथ ही इस में मौजूद विटामिन सी, पोटेशियम, विटामिन-बी6 और अन्य खनिज, आंतडों और पाचन तंत्र में हुई सूजन को घटाते हैं।
6) मुँह के छालों से दे आराम
आलू का सेवन, मुँह के छालों से राहत दिलाता है। बाहरी सूजन और जलन पर लगाया गया कच्चा आलू लाभदायक साबित होगा।
7) मस्तिष्क के विकास में लाभदायक
मस्तिष्क का विकास, हमारे शरीर में मौजूद ग्लूकोज के स्तर, ऑक्सीजन की पूर्ति, विटामिन बी कॉम्प्लेकस में मौजूद कुछ तत्वों, हार्मोन, एमिनों ऐसिड और फैटि एसिड जैसे ओमेगा-3 पर निर्भर करता है। क्योंकि, आलू में ये सारे पोषण तत्व मौजूद है, जिसके कारण यह हमारी सेहत के लिए लाभदायक है।
8) हृदय की बिमारी से बचाए
विटामिन, मिनरल और अन्य पोषण तत्वों के अलावा आलू में केरोतेनौड्स नामक सब्स्टन्स होता है, जो हमारे हृदय और आंतरिक अंगों के लिए हितकारी हैं। पर क्योंकि, इसका सेवन शरीर में ग्लूकोज के स्तर को बढाता है, और अति सेवन शरीर में मोटापा बढाता है, जिसका सीधा असर हमारे हृदय पर होता है; अतः मोटे व्यक्ति और मधुमेह के मरीज, आलू ना खायें।
9) दस्त
खाने में काफी हल्का और पचाने में बहुत आसान, इस आलू के सेवन से दस्त से परेशान मरीज अपनी खोई उर्जा वापस पाएँगे। क्योंकि इस में स्टार्च की मात्रा बहुत अधिक होती है, आलुओं का अति सेवन आपको दस्त की बिमारी भी दे सकता है।
10) चोट और जलन में भी लाभदायक
आलू का रस जलन, चोट, मोच, त्वचा की समस्याओं, छालों, प्रोस्ट्रेट और गर्भाशय के कैसर, ट्यूमर और नशीले पदार्थों के प्रभाव को कम करने में लाभकारी है।

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email