》 बीटरूट और कैरेट जूस
यदि आपको सुबह के समय आलस महसूस हो रही हो या फिर थकान लगे तो चुकंदर का जूस पी लीजिये । इसमें कार्बोहाइड्रेट होता है जो शरीर की एनर्जी बढाता है। साथ ही चुकंदर कई सारे पौष्टिक तत्‍वो से भरा पड़ा होता है।
आज जो चुकंदर, गाजर और नींबू का जूस हम बताने जा रहे हैं उसमें 3 ग्राम प्रोटीन, 7 ग्राम रेशा, 1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट मिला है, जो कि आपके शरीर को तुरंत शक्‍ति प्रदान करेगा। इसे बनाना बहुत ही आसान है इसलिये इसे नाश्‍ते के साथ सेवन जरुर करें। बच्‍चों को यह जूस जरुर पिलाएं। आइये जानते हैं इसे बनाने की विधि-
कितने लोगों के लिये- 1

बनाने में समय- 10 मिनट
》 सामग्री-
2 चुकुंदर
3 गाजर
1 चम्‍मच नींबू रस
2 चम्‍मच दही
नमक
》 विधि-
● सबसे पहले चुकंदर को और गाजर को छील लें। फिर उसे मोटे टुकड़ों में काटें और जूसर में पीस लें।
● इसे एक गिलास में निकालें और उसमें नमक, नींबू रस और काली मिर्च पाउडर छिड़कें।
● सर्व करने से पहले इसमें दो चम्‍मच दही मिलाएं और चलाएं।
》 जवां-हसीन बनने के लिए पिएं चुकंदर का रस
● जी हां दोस्तों, अगर आपको अपने अंदर जवान जैसे लोगों की तरह सुंदरता और ऊर्जा की इच्छा है तो आप आज से ही चुकंदर का रस पीना शुरू कर दीजिये। एक रिसर्च के मुताबिक चुंकदर में वो शक्ति होती है जो बूढ़ों का भी जवान बना देती है। जर्नल ऑफ एप्लाइड फिजियोलॉजी में ब्रिटेन के एक्जीटर विश्वविद्यालय के रिसर्च में कहा गया है कि चुंकदर के रस का सेवन करने से व्यक्ति में रक्त संचार काफी बढ़ जाता है।

● चुकंदर का रस रक्त वाहिनियों को फैलने में मदद करता है जिसके चलते काम करते वक्त मांसेपेशियों में आक्सीजन की आवश्यकता कम हो जाती है। इसलिए उम्रदराज लोगों को चुकंदर का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि अक्सर उन्हें आक्सीजन की कमी पड़ती है अगर वो चुंकदर का रस रोज पियेगें तो आक्सीजन की आवश्यकता कम हो जायेगी।
● वैसे चुंकदर का रस उन लोगों को भी पीना चाहिए जो दिन भर दौड़ते -भागते रहते हैं और उन्हें आराम करने का मौका नहीं मिलता है। चुंकदर शरीर में हिमोग्लोबिन बढ़ाता है जिसके चलते शरीर में ऊर्जा और चमक उतपन्न हो जाती है। और व्यक्ति सुंदर और ऊर्जावान नजर आता है।

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email