● वजन बढ़ने के कारणों की कमी नहीं है पर इसका मुख्य कारण होता है लापरवाही। हमारी आधुनिक जीवनशैली ने हमें लापरवाह बना दिया है। क्या आप जानते है कि खुद आपका घर आफको मोटा बना रहा है।
1) घर में छिपा मोटापा :-
आपके घर का वातावरण व उसको व्यवस्थित करने के कुछ तरीके भी आपको मोटा बना सकते हैं। और यदि घर व रसोई में कुछ बदलाव किये जाएं तो मोटापे की समस्या पर कफी हद तक लगाम लगाई जा सकती है। तो चलिये जाने की क्या हैं घर के ये मोटापा बढ़ाने वाले कारण और इन्हें ठीक करने के तरीके।

2) डाइनिंग रूम रेड कलर का रखना :-
पैंटोंन कलर इंस्टिट्यूट के अनुसार डाइनिंग रूम का कलर लाल रखने से मोटापा बढ़ता है। अगर आपके घर के डाइनिंग रूम का कलर भी लाल हो तो इसको बदल कर पीला करा दे।
3) जंक फ़ूड पर निर्भर :-
आपको खाना बनाना नहीं आता है। फिर तो आप सारे समय या तो बाहर से खाना कहते होंगे। या फिर जंक फ़ूड कहते रहते होंगे। दोनो ही बातें सही नहीं है। खुद नहीं बनाना आता है तो मेड रख ले।
4) हर समय किचन :-
आपके मोटापे का इस बात से बार सम्बन्ध है कि आपका कितना समय किचेन में बीतता है। जी घूम फिर कर किचेन में रहना यानि कुछ न कुछ खाते रहना। जल्दी से बदल दीजिये ये आदत।
5) लेट कर खाना :-
क्या आपकी आदत है फ़ैल कर खाना खाने की। इस आदत से भी जल्दी से छुटकारा पा ले। घर के बिस्तर खाना खाने के लिए नहीं होते है। इसलिए डाइनिंग टेबल पर बैठ कर ही खाना खाएं।
6) .ताज़ी और हरी सब्जी न खाना :-
आपके घर में किचन गार्डन है। नहीं है तो जल्दी लगाईये। इससे आपको ताज़ी सब्जिया भी मिल जाएँगी और थोड़ी मेहनत भी हो जायेगी। जो आपको मोटा होने से रोकेगी। और अगर नहीं ला सकते तो रोज बाजार से ताज़ी सब्जी खरीदे।
7) मशीनीकरण :-
आज के आधुनिक दौर में हर काम की जगह मशीन ने ले ली है। क्या आपको पता है कि हाथों से बर्तन धोने 150 कैलोरी खर्च होती है। पर आपको क्या आप तो डिशवाशर यूज़ करते है। इसी तरह घर के अन्य काम भी मशीन से झटपट हो जाते है। जो आपका मोटापा बढ़ाने में काफी है।
8) बेडरूम ठीक से सोने के अनुकूल न होने पर :-
अपने वजन को बढ़ने से रोकने के लिए अच्छी और पर्याप्त नींद लेना भी बेहद जरूरी होता है। जब आप थके होते हैं तो, लेप्टिन का स्तर, जो कि भूख को नियंत्रित करता है, कम होता है। जबकि भूख उत्तेजक, घरेलिन क स्तर बढ़ जाता है। सोने से लेप्टिन का स्तर बढ़ता है और अधिक खाने की आदत से बचाव होता है। तो बिस्तर को साफ और आरामदायक रखें और अच्छी और पर्याप्त नींद लें।

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email