अब आप जान सकते हैं की गुड़हल की पत्तियों के द्वारा गुड़हल तेल और शैम्पू केसे बनाये जा सकते है. यदि प्रक्रिया को सही तरीके से दोहराया जाये तो आप आसानी से शैम्पू, तेल और कंडीशनर पा सकते है. यहाँ पर कुछ आसान तरीको को बताया गया है जिसके द्वारा आप इसे बना सकते है. लोग प्राचीन पत्थर और मूसल का प्रयोग इस अदभुत तेल को बनाने में करते है. इस आयुर्वेदिक पदार्थ का इस्तेमाल कीजिये और २ से ३ हफ्ते के बाद अपने बालो को देखिये. निश्चित ही आप अपने बालो में कमाल का परिवर्तन पायेगी जिसके लिए आप लम्बे समय से सोच रही थी. हो सकता है शुरू में लोगो को बाल आकर्षक न दिखे और फर्क महसूस ना हो . लेकिन जब आप अपने बालो को छू कर देखेंगी तो फर्क अपने आप पता चल जायेगा.
गुड़हल हेयर केयर तेल बनाने के लिए सामग्री
नारियल तेल
गुड़हल का फूल
एक साफ कंटेनर / बोतल
गुड़हल के पत्ते
प्राचीन पत्थर और मूसल
बनाने की विधि
हेयर केयर तेल बनाने के लिए आप गुड़हल के फूलो और पत्तियो को तोड़ कर पिस ले. यह आप मूसल की सहायता से कर सकते है. अब एक साफ बर्तन ले और उसे १/२ नारियल तेल से भर दे. अब इसमें पीसी हुई पत्तिया और फूलो को डूबा दे तथा ४ से ५ मिनट के लिए उबाल आने दे. आप इस मिश्रण को ठंडा होने के लिए कुछ देर छोड़ दे.
इस्तेमाल करने की विधि
इसे इस्तेमाल करने के लिए एक विशेष प्रक्रिया भी है जेसे ही तेल ठंडा होता है इसे आसानी से सिर पर लगाया जा सकता है.आप पर्याप्त समय देने के लिए सिर पर धीरे धीरे मालिश कर सकती है.यह बालो की जड़ में जा कर उचित पोषण प्रदान करेगा. जब आप निश्चित हो जाये की तेल बालो की जड़ में चला गया है तब अपने बालो को 10 से 15 मिनट के लिए तोलिये से लपेट दे और बिलकुल हाथ न लगाये. और फिर गर्म पानी एवं शेम्पू से बालो को अच्छी तरह धो ले.
गुड़हल शेंपू बालो के लिए
आप गुड़हल से बालो के लिए शैम्पू भी घर पर बना सकते है.इसके लिए आप गुड़हल की पत्तियो को प्राचीन पत्थर के द्वारा पिस ले. एक छोटी कटोरी में गुड़हल की पत्तिया ले और बारीक़ पेस्ट बनाये. अब इसमें कुछ जैतून का तेल मिलाये पेस्ट गाढ़ा हो जायेगा.
लगाने की विधि
जब शैम्पू तैयार हो जाये तब अगली प्रक्रिया के तहत इस पेस्ट को अपने पुरे बालो पर फेला ले शैम्पू की तरह. इसमें जैतून का तेल मिला हुआ है तो यह झाग नहीं बनाएगा जब की इसे तेल की तरह लगाया जा सकता है.याद रहे की पेस्ट जड़ से लेकर बालो तक सभी जगह लग जाये. आप इसे १५ मिनट के लिए रख सकते है और फिर गर्म पानी से इसे अच्छी तरह धो ले.
बालो के लिए मास्क
अब आप सभी तरह के बालो के लिए उपयुक्त मास्क की प्रक्रिया पा सकते है. अगर आप बाजार में बालों की देखभाल के उत्पादों के विभिन्न प्रकार से बहुत डरते हैं क्यों की यह हानिकारक होते है. तो आपको इस विशेष बालो के मास्क को लगाने की जरूरत है. यह बहुत ही असरदार उपचार है उनके लिए जो अपने बहुत से बालो को वातावरण में पाए जाने वाले प्रदुषण और धुल की वजह से खो रहे है .
मास्क बनाने के लिए सामग्री- एक बर्तन, गुड़हल का फुल, मेहँदी (मेहँदी का तेल) और दही. आपको कुछ फूलो को २ दिन के लिए धुप में सुखाना है. इसमें कोई भी नमी नहीं होना चाहिए. आप फूलो की पंखुडियो को पिस ले जब वह अच्छी तरह से सुख जाये. आप इसे पाउडर भी बना सकती है, मास्क बनाने के लिए, एक बर्तन ले और उसमे ३ बड़े चम्मच दही डाल दे और एक चम्मच गुड़हल के फूलो का पाउडर. जब यह पाउडर दही में घुल जायेगा आपको हैरानी होगी की फुल गुलाबी कलर छोड़ रहे है. अब आप इसमें महंदी (मेहँदी का तेल) के २ बूंद डाले.आप सभी सामग्री को मिला ले तथा जब यह पिंक कलर छोड़ने लगे तब आपका मिश्रण तैयार हो जायेगा. अब इसे अपने बालो में लगा ले और ३० मिनट बाद गुनगुने पानी से धो ले.

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email