● स्‍ट्रेच मार्क्‍स शरीर पर पडी़ वह सफेद क्षीण रेखाएं होती हैं जो कि प्रेगनेंसी के समय या फिर अचानक मोटे हो जाने पर पड़ जाती हैं। कई लड़के जो जिम में जाकर बॉडी बिल्डिंग के लिए एक्सरसाइज करते हैं, उन्‍हें भी यह परेशानी कंधे, पीठ या जांघों में हो जाती है। कई केसों में तो स्‍ट्रेच मार्क्‍स अपने आप ही गायब हो जाते हैं लेकिन ज्‍यादातर केसों में यह नहीं जाते। हो सकता है कि जब भी आप साडी़ पहनती होंगी तो यह स्‍ट्रेच मार्क्‍स बिल्‍कुल साफ दिखाई पड़ते होंगे, तो ऐसे में आप साडी़ पहनना तो नहीं छोड़ सकती।
● आपको बात दें कि हमारी त्‍वचा दो सतहों में बनी होती हैं, जब कोई महिला गर्भवती होती है या कोई इंसान अचानक मोटा होता है तो हमारी त्‍वचा में भी खिंचाव आने लगता है। ऐसे में त्‍वचा की बाहरी सतह तो खिंच जाती है, लेकिन आंतरिक त्‍वचा इस खिंचाव को लंबे समय तक सह नहीं पाती और इसके अंदर का टिशू टूटता चला जाता है, जिससे त्‍वचा में स्‍ट्रेच मार्क बनते जाता है।
● बाजार में कई तरह के स्‍ट्रेच मार्क्‍स रिमूवर क्रीम और लोशन उपलब्‍ध हैं लेकिन सभी की सभी असरदार हों यह जरुरी नहीं हैं। इन क्रीमों की वजह से शरीर पर साइड इफेक्‍ट भी हो जाते हैं। अच्‍छा होगा कि आप प्राकृतिक चीजों का इस्‍तमाल कर के इन्‍हें हल्‍का करें। आइये जानते हैं ऐसे ही कुछ प्राकृति तरीके
1) व्‍यायाम :-
एक अच्‍छा वर्कआउट करने से आपके स्‍ट्रेच मार्क सही हो सकते हैं। मसल्‍स की टोनिंग त्‍वचा को बिल्‍कुल ठोस बना देती है और इसी कारण से स्‍ट्रेच मार्क धीरे-धीरे गायब होने लगते हैं।
2) अच्‍छा खान-पान :-
अपने आहार में विटामिन सी और ई वाले फल और सब्‍जियां शामिल करें। यह आहार नई टिशू की ग्रोथ में मदद करके खराब हो चुकी टिशू की मरम्‍मत करते हैं। जिंक वाले आहार जैसे, नट्स और बीज और ज्‍यादा स्‍ट्रेच मार्क्‍स पैदा होने से रोकते हैं। विटामिन के रिच फूड जैसे, डेयरी प्रोडक्‍ट, लीवर, हरी सब्‍जियां और टमाटर स्‍ट्रेच मार्क्‍स को ठीक करते हैं।
3) एलो वेरा :-
स्‍ट्रेच मार्क्‍स पर ताजा एलो वेरा का गूदा मसाज करने से त्‍वचा टोन होती है और इसमें शामिल एंजाइम खराब हो चुकी त्‍वचा को हटा कर दूसरी त्‍वचा को हाइड्रेट करता है।
4) लैवन्डर ऑयल :-
लैवन्‍डर तेल को अगर दिन में तीन बार स्‍ट्रेच मार्क्‍स पर लगाया जाए तो धीरे-धीरे निशान गायब होने लगता है और उसकी जगह पर नई त्‍वचा आने लगती है।
5) एप्रीकॉट स्‍क्रब :-
स्‍ट्रेच मार्क्‍स की डेड और डैमेज स्‍किन को एप्रीकॉट स्‍क्रब से दूर किया जा सकता है।
6) अरोमैटिक ऑयल :-
तेल जैसे, बबूने का फूल, रूचिरा, जोजोबा, स्‍वीट आल्‍मंड, आदि जैसे अरोमैटिक ऑयल स्‍ट्रेच मार्क्‍स को दूर कर के नई स्‍किन पैदा करने में मददगार होते हैं। इन्‍हें लेवन्‍डर ऑयल के साथ प्रयोग करने पर यह ज्‍यादा असरदार होते हैं।
7) कोकोआ बटर :-
प्रेगनेंसी में पडे़ स्‍ट्रेच मार्क को दूर करने के लिये कोकोआ बटर का प्रयोग सबसे ज्‍यादा होता है। यह त्‍वचा को नम कर के डैमेज हुई टिशू को सही करता है।
8) होममेड स्‍ट्रेच मार्क रिमूवर विधि :-
कई बार यह जरूरी हो जाता है कि कई तरह के तेलों को विटामिन के साथ मिला कर प्रयोग करने से स्‍ट्रेच मार्क्‍स दूर हो जाते हैं। जैसे विटामिन ए और ई की कैप्‍सूल के साथ लेवेन्‍डर, एवाकाडो या कैमोमाइल के तेल को मिक्‍स कर के लगाया जाए।

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email