● ऐलो वेरा एक एसा पौधा है जिसको त्‍वचा पर लगाने से बहुत फायदा होता है। य‍ही नहीं जब इसे बालों और त्‍वचा पर लगाया जाए तो और भी प्रभावशाली असर देखने को मिलता है। एलोवेरा के इस्तेमाल से मुहांसे, रूखी त्वचा, चेहरे के दाग, धब्बे कम किए जा सकते हैं।
● बालों के उपचार के लिए ऐलावेरा किसी जादुई प्रभाव से कम नहीं। बालों संबंधी जितनी भी समस्याएं हैं एलोवेरा के प्रभाव से दूर हो जाती हैं जैसे- बालों का गिरना, रूखे बाल, बालों में डेंड्रफ इत्यादि समस्याएं। खैर ये तो हुई बालों को सुंदर बनाने की बात लेकिन आज हम आपको एलो वेरा जेल का त्‍वचा पर होने वाले फायदे के बारे में जानकारी देंगे।
1) एक्‍ने के लिये
एलो वेरा को एक स्‍किन क्‍लींजर के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। इसको लगाने से पिंपल और एक्‍ने से राहत मिलती है। एक टुकड़ा एलो वेरा ले कर उसे पानी में उबाल लें। इसके बाद उसे मिक्‍सी में पीस कर उसमें शहद मिला कर अपने चेहरे पर लगाएं, खासकर पिंपल और एक्‍ने पर। इसे 15 मिनट तक के लिये सूखने दें और फिर हल्‍के हाथों से ठंडे पानी से धो लें।
2) प्राकृतिक नमी पहुंचाए
यदि स्‍किन रूखी है तो ऐलो वेरा त्‍वचा में नमी पहुंचाने का काम करेगा। साथ ही यह स्‍किन में कसाव लाएगा और रूखा होने से बचाएगा।
3) आफटर शेव
रेज़र बर्न और खुजली को मिटाने के लिये इससे मसाज कीजिये। यह इतना ठंडा होता है कि रेज़र से पैदा होने वाली जलन को यह मिटा सकता है।
4) स्‍ट्रेच मार्क हटाए
स्‍ट्रेच मार्क या तो मोटापे की वजह से बनते हैं या फिर प्रेगनेंसी से। यदि इस स्‍ट्रेच मार्क को हल्‍का करना हो तो रोज सुबह ऐलो वेरा जैल से मालिश कीजिये। यह काफी हद तक आपके स्‍ट्रेच मार्क को कम कर देगा।
5) झुर्रियों से बचाव
बुढापा आने लगा है और मुंह पर झुर्रियां साफ दिखाई पड़ने लगी हैं तो ऐलो वेरा जेल से मालिश कीजिये। यह स्‍किन को अंदर से मॉइस्‍ट करेगा। इसका रस स्‍किन को टाइट बनाता है और इसमें विटामिन सी तथा ई होने के नाते स्‍किन हाइड्रेट भी बनी रहेगी।
6) सनबर्न से मुक्‍ती-
सनबर्न या सनटैन होने से स्‍किन पर काला पन आ जाता है। चाहे स्‍किन पर सूजन और या फिर जलन हो रही हो, यह एलो वेरा जेल से मालिश कीजिये और छुटकारा पाइये।

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email