● अमरूद से तो आप सभी परिचित होगें, इसे भारत के कई स्‍थानों पर जामफल भी कहा जाता है। अमरूद पेट से जुड़ी समस्‍याओं को दूर भगाने में बेहद कारगर होता है। सर्दियों के मौसम में अमरूद, फलों का बादशाह होता है। सस्‍ते होने के साथ - साथ इसमें स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कई लाभदायक गुण भी होते हैं।
● अमरूद का अर्थ होता है मीठा, एक ऐसी मिठास जिससे विटामिन, मिनरल और भरपूर मात्रा में फाइबर भी होता है। आइए जानते हैं अमरूद में और कौन - कौन से स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुण हैं।
》Health Benefits of Guava
अमरूद के लाभ-
1) मुंह में छालों से दिलाता है आराम :
अगर आपके मुंह में काफी छाले हो गए हैं या फिर अक्‍सर आपको माउथ अल्‍सर की प्रॉब्‍लम बनी रहती है तो आप अमरूद की नई - नई कोमल पत्तियों को सेवन करें। इससे आराम मिलता है।
2) शरीर करता है फिट एंड फाइन
अमरूद में मौजूद पौष्टिक तत्‍व शरीर को फिट और फाइन रखने में मदद करता है बशर्ते इसे सही समय पर खाया जाएं। रात में खाने से सर्दी में खांसी भी आ सकती है।
3) कब्‍ज से छुटकारा
अमरूद बॉडी के मेटाबॉल्जिम को बैलेंस रखता है इस वजह से इसके सेवन से कब्‍ज से छुटकारा मिल जाता है।
4) आंखों को बनाएं स्‍वस्‍थ्‍य
अमरूद में विटामिन ए की मात्रा काफी होती है जो कि आंखों को स्‍वस्‍थ बनाएं रखती है। इसके अलावा अमरूद में विटामिन सी भी होता है जो बीमारियों को शरीर से दूर भगाता है।
5) त्‍वचा पर लाए ग्‍लो
जी हां, अमरूद में मौजूद पौटेशियम के कारण इसके नियमित सेवन से स्‍कीन ग्‍लो करती है और कील मुंहासों से भी छुटकारा मिलता है।
6) अमरूद खाकर मोटापा घटा सकते हैं
शरीर में मोटापे की मुख्‍य वजह बॉडी का कोलेस्‍ट्राल होता है। अमरूद में मौजूद तत्‍व शरीर से कोलेस्‍ट्रॉल को कम कर देते हैं जिससे मोटापा घट जाता है। तो अगली डाईटिंग शेड्यूल में अमरूद को शामिल करना न भूलें।
7) नशे को कम करता है
अगर किसी व्‍यक्ति को भांग का नशा भयंकर चढ़ गया हो तो उसे अमरूद के पत्‍तों का रस पिलाने से नशा कम हो जाएगा। रस की बजाय आप अमरूद के पत्‍तों को भी खिला सकते हैं बशर्ते वो नशेड़ी व्‍यक्ति उसे अच्‍छे से चबा ले।


Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email