एलोवेरा दुनिया के हर जगह पाया जाने वाला एक बेहद ही उपयोगी पौधा हैं.एलोवेरा ट्रॉपिकल रीज़न में पाया जाता हैं.एलोवेरा की खेती भी की जाती हैं जिससे कई प्रकार की दवाई ,सौन्दर्य प्रशाधन इत्यादी बनाइ जाती हैं.एलोवेरा हमारे जीवन शैली में कई प्रकार से उपयोग में आता हैं
   
एलोवेरा के स्वास्थ सम्बंधित 23 चमत्कारी फायदे

1. पेट के विकारों को ख़त्म करता हैं : पेट की किसी भी तरह की परेशानी हो,दर्द,ऐठन ,कब्ज ,अलसर ,गस,अपच ,इत्यादी किसी भी प्रकार की रोगों के लिए घृतकुमारी (एलोवेरा ) हमारे लिए एक अदभुत औषधि के रूप में काम आता हैं. एलोवेरा के रस में निम्बू का रस और काली मिर्च मिला के पिने से फयदा होता हैं. पेट में अफारा हो गया हो और आराम नहीं मिल रहा हो तो घृतकुमारी के गुदे २० ग्राम सेवन करने से पेट को आराम मिलत हैं.

2. यकृत या लीवर की समस्याओं के निदान के लिए : यदि आपका लीवर कमजोर हो गाया हो ,दुर्बल हो गया हो ,कितने ही इलाज़ करवाया हो और कोइए फायदा न हुआ हो ,या फिर ज्यादा एंटीबायोटिक लेने से भी लीवर दुर्बल हो जाता हैं.ऐसे में हमें प्राकृतिक रूप से एलोवेरा का उपयोग करना चाहिए .इसके लिए एलोवेरा के १ किलो ग्राम रस में १० ग्राम, काली मिर्च ,५० ग्राम काला नमक या सिंधा नमक और निम्बू का रस अधिक मात्रा में मिला कर मिश्रण तैयार कर ले और रोज सुबह खाली पेट इसे ले तो किसी भी प्रकार का लीवर की समस्या का समाधान हो जाता है.

3. आर्थराइटिस में उपयोगी हैं : अगर आपको आर्थराइटिस की समस्या हो तो एलोवेरा का उपयोग वैसे ही कर सकते हैं.कैसी भी समस्या हो आर्थराइटिस की आराम मिल जाता हैं. इसके लिए घृतकुमारी के रस या लड्डू का सेवन प्राय करते रहे ,आराम जरुर मिलेगा .

4. कान के दर्द में लाभकारी :  कान में दर्द हो रहा हो तो एलोवेरा का रस के कुछ बूंद जिसमे दर्द हो रहा हो उस कान में ना डाल के दुसरे कान में डाले.इसका फायदा ऐसे भी हो जाता हैं.

5. एलोवेरा शरीर के सूजन को कम करता हैं :  एलोवेरा का प्रतिदिन सेवन से शरीर में कही भी सूजन हो उसे जल्द से जल्द ठीक कर देता हैं.हमारे शरीर के प्रतिरोधक क्षमता को बढाता हैं.

6. हार्मोनल बदलाव को भी ठीक करता हैं : आज कल महिलाओं में मासिक धर्म में कइ प्रकार की समस्या आती रहती हैं.किसी को स्त्राव ज्यादा होता हैं ,किसी को कम,किसी को देरी से आता हैं,दर्द भी होता ऐसे बहुत प्रकार के तकलीफ़ों से छुटकारा दिलाता हैं एलोवेरा का रस.एलोवेरा के सेवन से तन तंदुरुस्त हो जायेगा ,और हार्मोनल समस्या में भी आराम मिलेगा .एलोवेरा के रस या गुदे का प्रयोग करने से महिलाओं को मासिक धर्म में होने वाले परेशानी से छुटकारा मिलत हैं.और मासिक धर्म सामान्य  हो जाता हैं.

7. खून की कमी में लाभदायक :  जिन माताओं ,और बहनों को खून की कमी हो उनको एलोवेरा का सेवन अवश्य करना चाहिए .इसके लिए एलोवेरा के रस में गेहूं का जवारा को लेके के इसका मिश्रण बाने और रोज सुबह इसे ले इससे हिमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता हैं और खून की कमी में आराम मिलता हैं.

8. खुनी बबासीर ( पाईल्स)  में लाभ :  जिनको भी खुनी बबासीर हो खून अधिक मात्रा में गिरता रहता हो तो उन्हें एलोवेरा का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए .एलोवेरा में इतनी क्षमता है की अगर खून रूक ही ना रहा हो तो एलोवेरा कइ पत्तों के छिलके निकल के उसमे गेरु मिलकर लंगोट की तरह पहने मात्र से खून का निकलना बंद हो जाता है.

9. पुरानी कब्ज को ठीक करता है ; पुराना कब्ज हो कैसा भी कब्ज हो एलोवेरा का जूस प्रतिदिन पिने से लाभ होता हैं .अरंडी के तेल में में घृतकुमारी का जेल मिला कर खाने से या पिने से कितना भी पुराना कब्ज हो आराम मिलता हैं.

10. बच्चों को कब्ज में फायदा : छोटे बच्चो को पॉटी करने में परेशानी हो रही हो ,स्टूल नहीं हो रहा हो,अगर हो भी रहा हो और बहुत तकलीफ से हो रहा हो तो ,ऐसे में एलोवेरा के रस में थोरा हिंग गर्म करके बच्चे के नाभि के आस पास लगाने से ,पॉटी आराम से हो जाता हैं.जब एलोवेरा बाहर से इतना असर करता हैं तो पीने से कितना फायदा हो सकता हैं.


11. खांसी में फायदा : अगर आपको खांसी हो गई हो और आराम नहीं मिल पा रहा हो तो घृतकुमारी के गुदे में काला नमक दाल कर चूसने मात्र से ही खांसी में बहुत आराम मिलता हैं.

12. स्तन में हुए गाँठ को भी ख़त्म करता हैं  : महिलाओं को अगर स्तन में गाँठ बन गइ हो तो घबराए नहीं ,कियूं की एलोवेरा हैं न आपके गाँठ को नष्ट करने के लिए खत्म करने के लिए. आप घृतकुमारी के पत्ते को ले ले उसको एक भाग से छिलका निकाल दे और उसे थोडा गर्म कर दे,और जहां गाँठ हो गया हो वहाँ बांध ले,ऐसा प्रतिदिन करने से आराम मिलत हैं और गाँठ भी नष्ट हो जाता हैं.और आराम मिलता हैं.

13. कमर दर्द में सहायक : कमर के दर्द या स्लिप डिस्क हो जाने पे भी घृतकुमारी के गुदे को खाए या उसकी रोटी बना कर या फिर लड्डू बना कर खाए तो कमर की किसी भी समस्या से निजात मिलता हैं.

14. खुजली में आराम दिलाता हैं ; अगर शरीर में किसी भी प्रकार की खुजली हो रही हो और आपको आराम नहीं मिल रहा हो तो आप एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं.इसको प्रयोग में कैसे लाना हैं ये बता दूँ ,एलोवेरा का रस निकाल ले उसमे नारियल तेल ,कपूर और गेरु मिलाकर मिश्रण तैयार कर ले और रोज सुबह सुबह पुरे शरीर में लगा ले ,कुछ देर रहने दे फिर पानी से साफ़ करले या नहा ले.शरीर की खुजली से बहुत आराम मिलेगा .चित्त पित्त में भी आराम दिलाता है.किसी भी प्रकार की त्वचा सम्बन्धी समस्या का एक ही इलाज़ हैं एलोवेरा .

15. कटने या जलने पर : अप कही कट फट जाये या जल जाये तो आप उसपे घृतकुमारी के गुदे को या उसके रस को उस जगह पे लगा ले देखिएगा जलन से आराम मिलेगा ही और फोरे भी नहीं आयेंगे .

16. एलर्जी में आराम :  अगर बच्चो को अक्सर एलर्जी की समस्या हमेशा होती हो तो ,आप घृतकुमारी का प्रयोग कर सकते हैं.एलर्जी में आराम दिलाती हैं.घृतकुमारी के रस या गुदा में काला तिल भुना हुआ और गुड लेकर उसका लड्डू बनाकर उसका प्रयोग कीजिये एलर्जी से आराम मिलेगा.

17. मूत्र विकार से भी आराम दिलाता हैं :  मूत्र समस्या आज कल प्रायः देखि जाती हैं.चाहे वो यूरिन इन्फेक्शन हो या बार बार मूत्र करने की इच्क्षा होती हो प्रोस्टेट ग्रैंड बढ़ गाया हो ,इन सबसे छुटकारा के लिए आप घृतकुमारी और गुड और भुने हुए काले तील का लड्डू बनाए और उसका सेवन करते रहे,आराम जरुर मिलेगा .

18. कैंसर के लिए भी बहुत उपयोगी हैं : घृतकुमारी के रस का सेवन सभी प्रकार के कैंसर को ख़त्म करने में हमारे शरीर को मदद करता हैं.घृतकुमारी में जितने भी विटामिन्स हैं सब पानी में घुलनशील होते हैं .जो आसानी से शरीर के द्वारा अबशोषित कर लिए जाते हैं.

19. बच्चो का बिस्तर पे पेशाब करना : कभी कभी बच्चे रात में बिस्तर पे पिशाब कर देते हैं या प्रायः कर देते हैं तो उसके लिए भी आप बच्चो को एलोवेरा का सेवन करने दे या लड्डू बना कर खाने को दे.इससे बच्चे बिस्तर पे पेशाब नहीं करेंगे और उसका पाचन तंत्र भी अच्छा रहता हैं.

20. आतों में संक्रमण या अल्सर में फयदा होता हैं : एलोवेरा आँतों के संक्रमान को नष्ट कर आराम दिलाती हैं.इसका सेवन नितप्रतिदीन करने से बहुत आराम मिलत हैं.इसका कोइए साइड इफ़ेक्ट नहीं होता हैं .

21. फ़ूड पोइसिनिंग या फ़ूड एलर्जी में भी आराम दिलाती हैं : जिसको फ़ूड पोइसिंग की समस्या होती हो या किसी भी खाने से एलर्जी होती हो तो घृतकुमारी के रस का सेवन करने मात्र से ही एन सब विकारों से निजात मिलता हैं.

22. डाइबिटीज भी कम करता हैं :  डाइबिटीज वालोन को एलोवेरा के रस या जेल का प्रयोग करते रहना चाहिए ,प्रयोग एक दिन का नहीं होना चाहिए इसे लगातार उपयोग में करना चाहिए.एलोवेरा डाइबिटीज को नियंत्रित रखता हैं.अतिरिक्त दवाई लेने की भी आवश्यकता भी नहीं होती .

23. एलोवेरा हमारी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती हैं साथ ही साथ H.I.V वायरस को नियंत्रित करती हैं

Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email