• लीची गर्मियों में पाया जाने वाला रसीला और स्वादिष्ट फल है. लीची में कई ऐसे फायदे हैं जो इसे उपयोगी बनाते हैं. गर्मियों के मौसम में लीची जरुर खाना चाहिए इससे आपको बहुत सारे फायदे होंगे. लीची खाने के बहुत सारे फायदे तो हैं, लेकिन ज्यादा मात्र में लीची खाना आपको थोड़ी परेशानी में डाल सकता है. तो आइए जानते हैं कि लीची खाने के क्या-क्या फायदे हैं और इसके क्या-क्या नुकसान हैं.
  • लीची बच्चों के शारीरिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसलिए बच्चों को प्रति वर्ष इसका सेवन करवाना चाहिए.
  • लीची हमारी हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है. यह हमारे हड्डियों में विकार के कारण होने वाली बीमारी से हमें बचाता है.
  • एक बार में 10-12 से ज्यादा लीची खाने से सिरदर्द या नकसीर की समस्या हो सकती है.
    अगर आप फल खाने के अभ्यस्त हैं तो चिंता करने की जरूरत नहीं है.
  • लीची का नियमित सेवन हमारे शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है. खासतौर पर स्तन कैंसर में यह ज्यादा लाभदायक है.
  • लीची सेक्स लाइफ बढ़ाने में भी बहुत मददगार है.
  • Litchi कब्ज नियंत्रित करने में मदद करता है.
  • लीची हमारी immunity system के लिए अच्छा है.
  • नियमित लीची खाना चर्बी कम करने में मदद करता है.
  • लीची का नियमित सेवन हमारे चेहरे पर असमय झुरिर्याँ नहीं आने देता है.
  • Litchi अस्थमा से भी बचाता है.
  • लीची हमारे दिल के स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है.
  • लीची नसों और जननांग की सूजन कम करने में भी मदद करता है.
  • शरीर के जिस अंग में सूजन हो उस अंग में लीची के बीज के पाउडर का लेप लगाने से सूजन कम हो जाता है.
  • लीची का नियमित सेवन चेहरे को चमकदार बनाता है. चेहरे के विकारों को दूर रखता है.
  • Litchi का सेवन गुर्दे की पथरी के कारण होने वाले दर्द में भी राहत पहुंचाता है.
  • लीची हमारे शरीर के आंतरिक सूजन को कम करता है.
  • लीची का नियमित सेवन करने वाले लोग जल्दी नहीं थकते हैं.
  • यह लेख आपको कैसा लगा, हमें अपनी राय जरुर बताएँ.


Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email