जनहित के लिऐ ये मेसेज सबको पढ़ाऐ, आपके प्रयास से किसीके लाल को जिंदगी मिल जाऐदोस्तो हम जब नशीली चीज को छुते है सेवन करते है तो हमे बडा आनंद आता है.शराब की लत होना.गुटखा -पान मसाला की लतबिडी - सिगारेट की लत होना.
☘ जो लोग नशा करते है वो लोग नशा करते वक्त तो उन्हे बडा ही आनंद आता है. नशे मे खो जाते है किंतु इसके परिणाम मिलने पर हाथ -पांव कांपने लगे ऐसा सीन होता है.
☘ तंबाकु-गुटखा पानमसाला की लत
☘दोस्तो जितना हो सके इतना जल्दी इस नशे को ही अलविदा करे. क्योकि नशा करते वक्त तो मजा आयेगा किंतुउसके परिणाम इतने कष्टदायी होते है मैने खुद अपनी आंखो से कई मरीजों को देखा है.
☘ पान -मसाला गुटखा का सेवन अगर आप कर रहे हो तो कभी भी केंसर होना संभव है. शुक्राणु की संख्या भी कम हो सकती है.
☘ बिडी- सिगरेट का व्यसन
☘दोस्तो बिडी सिगरेट पीने से पैसे तो बरबाद होते ही हैकिंतु साथ साथ सबसे ज्यादा नुकसान हमारे फैफडे, किडनी , लिवर को होता है. कोई भी चीज का केंसर , टीबी , वगैरा जैसे धातक रोग हो सकते है.
☘ दारु का व्यसन
☘दारु कै सैवन से हमारी किडनी , लिवर ,फेफडे कमजोर हो जातै है कई बार फैल भी हो सकते है जिनका इलाज शायद कभी संभव ही ना हो ऐसी नौबत आ जाती है.आईऐ सब मिलकर कसम खाऐ नशे को कहेंगे अलविदा☘☘☘☘☘☘☘☘☘☘☘
नशा मुक्ति का ईलाज
••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••
इलायची 20 GMsसौंठ 20 GMsअजवाईन 20 GMsपिपलि 10 GMsसौंफ 50 GMsनिंबु का रस 5. टिस्पुनसेंधा नमक. 10 GMsसभी चीजों को मिलाकर पिसकर मिक्स करले. आैर छोटी छोटी गोलिया थोडा पानी आैर बबुल का गोंद का पानी मिलाकर बना लिजीयै. आैर २-३ दिन तक धुप पर सुखाऐ.जब भी आपको नशा करनै का मन हो तब यै गोली मुंह मे रख दै. दिनमे 5-6 बार अगर आप इसको मुंह मे रखेंगे तो धीरे धीरे नशे की आदत कम होती जायेगी.


Categories

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी https://desinushkhe.blogspot.in/ की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
Powered by Blogger.

Follow by Email